मंत्र और जाप विधि

लक्ष्मी जी को प्रसन्न करने का मंत्र

                                                  ॥ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीभयो नमः॥ इस मंत्र को 108 बार पढ़ना है। पढ़कर गुगल, गोरोचन, छाल-छबीला, कपूर, काचरी, चंदन चूरा मिलाकर भोज पत्र पर स्वास्तिक बनाएं। अष्टमी या शनिवार को […]

मंत्र और जाप विधि

देवताओं के गायत्री मंत्र और उनका प्रभाव

गायत्री मंत्र महामंत्र है क्योंकि तीन देव ब्रह्म, विष्णु और महेश इसको अपना सार मानते हैं। अर्जुन को गीता ज्ञान देते समय स्वयं श्रीकृष्ण ने कहा है ‘गायत्री छन्दसामहम्’ अर्थात् ‘गायत्री मंत्र मैं ही स्वयं हूँ।’ गायत्री मंत्र में प्रथम चार शब्द आते है ‘ॐ भूर्भुवः स्वः’ अर्थात् प्रथम ॐ को स्वरूप बनाया गया है ओम […]