Taurus
राशियां

वृष राशि (Taurus)

वृष राशि के जातकों में वृषभ (बैल) के गुण और अवगुण पाये जाते हैं। यह व्यक्ति शान्त, धैर्यवान, परिश्रमी और काम में लगे रहने वाले होते हैं। इनमें लम्बे समय तक काम करने की शक्ति होती है। प्रायः इनको क्रोध नहीं आता परन्तु जब इनको क्रोध आता है तो तब तक नहीं उतरता जब तक विपरीत स्थिति इनके अनुकूल न बन जाये और शत्रु पर विजय न प्राप्त कर लें चाहे इसके लिए कई महीनें और वर्ष लग जाये। यह लोग फिजूल खर्च नहीं करते तथा इनको धन संग्रह करने की आदत होती है। जैसे-जैसे आयु बीतती जाती है इनको जमीन-जायदाद बढ़ती जाती है। इनकी जीवन में पैतृक सम्पत्ति अथवा किसी ओर से आकस्मिक धन लाभ होता है। परन्तु षड्यंत्र और मुकदमें के कारण धन हानि भी हो सकती है। मित्रें और संबंधियों से सहयोग मिलता रहता है। यह लोग अपने मन की बात किसी को नहीं बताते और जब तक चुपचाप अपने लक्ष्य पर पहुंच नहीं जाते तब तक परिश्रमपूर्वक लक्ष्य की प्राप्ति में लगे रहते हैं।

ऑफिस में इस राशि के अफसरों से काम कराने में कोई कठिनाई नहीं आती। काम में छोटी-छोटी गलतियों को यह महत्व नहीं देते और इनको माफ कर देते हैं क्योंकि यह समझते हैं कि यह गलतियां जान-बूझ कर नहीं हुई, परन्तु अगर कोई इनके नीचे काम करने वाला लगातार गलतियां करता जाये तो छः महीने के बाद अगर आप को नौकरी से निकालने का यह फैसला कर लें, तो आपको नौकरी से कोई नहीं बचा सकता।

कर्मचारी के रूप में यह व्यक्ति बड़े ही लाभदायक सिद्ध होते हैं क्योंकि यह लोग अपने काम में लगे रहते हैं और काम को सुचारू ढंग से पूर्ण करते हैं। वृष राशि के व्यक्तियों को फील्ड जॉब अथवा सेल्ज़मैनशिप ठीक नहीं बैठती क्योंकि बाहर घूमने की बजाय यह लोग घर में ज्यादा रूचि रखते हैं।

अगर वृष राशि की औरतें भर्ती की जाये तो उपर्युक्त सिद्ध होती हैं। सक्रेटरी की नौकरी इनको बहुत अनुकूल बैठती है। यह स्त्रियां मिलनसार होती हैं। परन्तु आप इनसे फ्रलर्ट नहीं कर सकते। प्रणय-संबंधों में यह तब आगे बढ़ेंगी जब इनको विश्वास हो जाए कि आप उनसे शादी करेंगे।

यह लोग दूसरे सैक्स की ओर बहुत आकर्षित होते हैं । अगर लड़का हो तो लड़की की ओर, लड़की हो तो लड़के की ओर आकर्षित होगी।

वृष राशि के व्यक्ति पुरूष हो अथवा स्त्री हो, अपने घर में ज्यादा रूचि लेते हैं। अतः शादी के बाद अपनी पत्नी अथवा पति को छोड़कर किसी दूसरी स्त्री अथवा पुरूष से प्रणय संबंध नहीं रखते। अपने बच्चों की देख-रेख तथा उनके कैरियर का इनको विशेष ध्यान रहता है। यह लोग उत्तम घर, उत्तम भोजन के शौकीन होते हैं।

यह लोग अधिकतर सरकारी कर्मचारी, व्यापारी, फाइनांसर, एकाऊटैंट, बैंकर, दलाल, प्रोपर्टी, एजैट, अभिनेता, गायक, ज्यूलर, आर्किटैक्ट, कलात्मक वस्तुओं के विक्रेता बनते हैं। यह लोग रूढि़वादी एवं आराम पंसद होते हैं। अतः बड़े जोखिम नहीं उठा सकते।

शुभ वारः        सोमवार, शुक्रवार, शनिवार
शुभ अंकः       6
शुभ रंगः        सफेद, काला।
स्वामीः          शुक्र
राशि तत्वः     पृथ्वी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *